Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

बिना पूर्वानुमति के 100% तक फीस बढ़ाने वाले स्कूलों पर होगी कार्यवाही

दिल्ली में सरकारी ज़मीनों पर बने प्राइवेट स्कूलों द्वारा बिना पूर्वानुमति के 100% तक फीस बढ़ाए जाने के सम्बन्ध में आज दिल्ली पेरेंट्स एसोसिएशन का प्रतिनिधि मण्डल Addl डायरेक्टर एजुकेशन पाटिल प्रांजल जी से मुलाक़ात कर अपना representation दिया।

इस प्रतिनिधि मण्डल में DPA की अध्यक्ष अपराजिता जी व संत राम जी ने कमिटी के मेंबर के रूप में उपस्थिती दर्ज़ करवाई। इसके अतिरिक्त महाराजा अग्रसेन स्कूल पीतमपुरा व अशोक विहार के पेरेंट्स सम्मिलित थे।

एसोसिएशन अध्यक्ष द्वारा प्रांजल जी सरकारी ज़मीनों पर बने स्कूलों में शिक्षा विभाग के प्राइवेट स्कूल ब्रांच की मिलीभगत को दस्तावेजों के माध्यम से आंकड़ों के साथ समझाया गया। जहाँ DDE PSB द्वारा पिछले वर्षों की फीस बढ़ाने के प्रपोजल पर 3-4 वर्षों बाद फीस बढ़ाने की अनुमति दी। जिसके चलते पेरेंट्स पर 50-60% का अतिरिक्त भार पड़ा। व इसके अतिरिक्त महाराजा अग्रसेन स्कूल पीतमपुरा की फीस बढ़ोतरी का ब्यौरा देते हुए ये साबित किया कि स्कूल द्वारा पेरेंट्स से फीस 94% बढ़ाकर ली जा रही है जबकि 2015 के बाद से केवल एक बार 10% बढ़ोतरी की अनुमति मिली है।

एसोसिएशन द्वारा अन्य मुख्य मुद्दों पर भी चर्चा की गयी:

  1. स्कूलों में DUMMY PTA
  2. गैर मान्यता प्राप्त मदों में नकद में ली जा रही फीस पर भी चर्चा की गयी
  3. शिकायतों पर शिक्षा अधिकारीयों की चुप्पी
  4. गैर कानूनी फीस बढ़ाने वाले स्कूलों को मौन स्वीकृत
  5. स्कूलों के orders का समय पर विभाग की वेबसाइट पर अपलोड नहीं होना
  6. मध्य सत्र में फीस बढ़ोतरी
  7. आदि

माँग

  1. PSB ब्रांच के पूर्व आला अधिकारीयों की विजिलेंस जाँच
  2. अन्य शिक्षा अधिकारीयों की स्कूलों के साथ लिप्तता की जाँच
  3. गैरकानूनी रूप से ली गयी अतिरिक्त फीस की तुरंत वापसी
  4. स्कूलों को अनुमति प्राप्त फीस का head wise breakup EDUDEL पर अपलोड, स्कूलों को केवल अनुमति प्राप्त फीस लेने के सख्त आदेश
  5. आदेश की अवहेलना पर स्कूल सोसाइटी पर चेतावनी के साथ अर्थदंड, और बाद में TAKEOVER
  6. सभी स्कूलों का CAG audit, क्योंकि स्कूलों में सालों से वित्तीय विसंगतियों के बाद भी उनको फीस बढ़ोतरी की अनुमति प्रदान की जा रही है।

पाटिल जी द्वारा ऐसे स्कूलों पर उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया गया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Need Help?