Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

नेता सदन, श्री योगेश वर्मा द्वारा प्रस्तुत वर्ष 2020-21 के संशोधित बजट अनुमान तथा वर्ष 2021-22 के बजट अनुमानों पर दिए गए वक्तव्य के मुख्य बिंदु

नेता सदन, श्री योगेश वर्मा द्वारा प्रस्तुत वर्ष 2020-21 के संशोधित बजट अनुमान तथा वर्ष 2021-22 के बजट अनुमानों पर दिए गए वक्तव्य के मुख्य बिंदु

वर्ष 2021-22 में प्रत्येक निगम पार्षद को उनके वार्ड के विकास कार्यो के लिए 1.5 करोड़ रुपये का बजट आवंटित करने का प्रावधान।
पार्षदों के लिए निगम द्वारा मान्य अस्पतालों व लैबों आदि में बिना कोई आर्थिक बोझ डाले उन्हें CGHS/DGHS की दर पर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराना।
औद्योगिक क्षेत्र के अंदर सभी तलों पर फैक्ट्री लाईसैंस की सुविधा
औद्योगिक क्षेत्रों के अंतर्गत सभी तलों पर फैक्ट्री लाईसैंस देने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस प्रक्रिया को सरल बनाते हुए सिर्फ चार दस्तावेजों की आवश्यक्ता होगी।
12 मीटर तक के उंचे गेस्ट हाउसों को हेल्थ लाईसैंस प्रदान करना
उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अधिकार क्षेत्रों के अंतर्गत 12 मीटर तक उंचे गेस्ट हाउसों को अब बिना दिल्ली फायर सर्विस के अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) के उन्हें हेल्थ लाईसेंस जारी करने का निर्णय लिया है।
अनधिकृत आवारा पशुओं के विरूद्ध कार्यवाही
उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने अपने अधिकार क्षेत्रों में अनधिकृत रूप से पशुओं को रखने वाले व्यक्तियों द्वारा आवारा पशुओं की समस्या पैदा करने पर राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) के आदेशों के अनुपालन में 5 हजार रूपेय प्रति घटना, प्रति दिन के हिसाब से पर्यावरणीय क्षतिपूर्ति के रूप में जूर्माना।
जिसकी माइक्रोचिप, उसकी भैंस
उत्तरी दिल्ली नगर निगम के क्षेत्र को आवारा पशु की समस्या से मुक्त करने के लिए एक प्रस्ताव स्थायी समिति द्वारा पारित किया गया है।
निगम के रिक्त स्थानों पर मोबाईल टावर्स को किराये पर देना
निगम के समस्त जोनों के अंतर्गत कुल 850 स्थानों के लिए निविदाएं आमंत्रित की गयी है।
निगम द्वारा आधार पंजीकरण केन्द्र की स्थापना
निगम अपने कार्यालयों व स्वास्थ्य संस्थानों में आधार पंजीकरण केन्द्र खोलन जा रहे हैं जिससे दिल्ली की जनता को काफी सहुलियत होगी।
स्मार्ट पोल्स की स्थापना
वर्तमान में निगम क्षेत्र के अंदर 20 स्मार्ट पोल्स स्थापना की जाने के लिए प्रक्रियाधीन है। इस योजना से भी निगम को नियमित आय होगी।
खाली पड़े ढ़लावों का जनहित में सदुपयोग
उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों में बेकार व जर्जर हालत में पड़े ढलावों तथा कॉम्पेक्टर लगाने के बाद खाली हुए ढलावों के स्थान पर डिस्पेंसरी, वरिष्ठ नागरिक केन्द्र, लाईबे्ररी, जिम, कॉफी शॉप व साइबर कैफे आदि का विकास।
निगम विद्यालयों में ए.टी.एम व शौचालय की व्यवस्था
निगम ने विद्यालय परिसरों का सदुपयोग करते हुए विद्यालयों के बाहर ए.टी.एम./स्मॉल ब्रांच की सुविधा।
निगम पार्को में मिल्क बूथ/क्योस्क लगाने की योजना
निगम के आधे एकड़ के पार्क में मिल्क बूथ/क्योस्क लगाये जाने का प्रस्ताव। क्योस्क लगाने के बदले में वेंडर को पार्को का रखरखाव करेगा।

निगम पार्को में नर्सरी की व्यवस्था
निगम के बड़े पार्को में मासिक किराये के आधार पर नर्सरी बनाने के लिए प्राइवेट वेन्डर (मालियों) को जगह उपलब्ध करायी जाएगी जिससे निगम को हर माह एक निश्चित आय होगी और पार्कों का रख-रखाव होगा।
ई-बाईक्स की व्यवस्था
दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए ऐतिहासिक, मार्केट स्थलों व अन्य सुविधाजनक स्थानों पर जनता की सुविधा के लिए ई-बाईक्स की व्यवस्था की जाएगी।
पार्किंग में ई-चार्जिंग स्टेशन की स्थापना
निगम पार्किग के अंदर 15 से 20 गाड़ियों का ई-चार्जिग स्टेशन की स्थापना की जाएगी जिससे भी निगम को आय की प्राप्त होगा और प्रदूषण नियंत्रण करने में मदद मिलेगी।
कॉल ड्राप की समस्या से निवारण एवं बेहतर नेटवर्क सुविधा के लिए मोबाईल टावर ऑन व्हील पॉलिसी (COW POLICY)
कॉल ड्राप की समस्या के निवारण एवं बेहतर नेटवर्क सुविधा के लिए निगम की संपत्तियों की छतों पर मोबाइल टावर एवं सेल टावर्स ऑन व्हील लगाने की योजना।
गोपराली का निर्माण
पराली और गाय के गोबर को मिश्रित करके गोपराली में परिवर्तित कर फ्यूल केक बनाया जाएगा। जिसका इसका उपयोग अंतिम संस्कार के लिए किया जा सकेगा।
योग कक्षाओं की शुरूआत
बच्चों में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाने के लिए निगम विद्यालयों में योग कक्षायें शुरू की जाएंगी।
स्पोर्टस् एकेडमी की स्थापना
बच्चों में खेल के प्रति रूझान बढ़ाने के लिए निगम के रानी झांसी स्टेडियम में पीपीपी मॉडल व आउटसोर्सिंग के आधार पर स्पोर्टस् एकेडमी की स्थापना।
पुरानी, डम्प गाड़ियों व जब्त हुए सामानों की नीलामी
निगम के समस्त जोनल कार्यालयों के अंदर व अन्य स्थानों पर पार्किंग से स्क्रैप की गाड़ियां उठायी गयी थी उनकी नीलामी ।
पुराने कागजों का निस्तारण
निगम के समस्त कार्यालयों में भारी मात्रा में कगज़ो की पुरानी रद्दी पड़ी हुई है जिनका रखरखाव भी करना पड़ता है गैरजरूरी सरकारी कागजो को वेंन्डिग मशीन के माध्यम नष्ट कर उनका निस्तारण।
जोनल कार्यालयों में सिटीजन चार्टर
निगम के समस्त जोनल कार्यालयों के बाहर लोगों की सुविधा के लिए सिटीजन चार्टर डिस्पले बोर्ड लगवाने का निर्णय किया गया है
नववर्ष पर दिल्ली की जनता को 4 आम माफी योजनाओं की सौगात
अनाधिकृत नियमित कॉलोनियों के लिए आम माफी योजना 2020 का विस्तार (आम माफी योजना-1)
रोहिणी, नरेला और सिविल लाइंस क्षेत्रों के अंतर्गत ग्रामीण व शहरीकृत गांव में बने गोदामों को संपत्ति कर में राहत देने के लिए माफी योजना (आम माफी योजना-2)
उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अधिकारक्षेत्र में रिहायशी संपत्तिधारकों के लिए आम माफी योजना के अंतर्गत सभी प्रकार की संपप्ति पर जुर्माने व ब्याज माफी योजना (आम माफी योजना-3)
उत्तरी दिल्ली नगर निगम के तीसरी एमवीसी में आंशिक सुधार और इस से प्रभावित होनी वाली संपत्तियों को 15% तक छूट की(आम माफी योजना-4)
उपरोक्त सभी सम्पत्तियों पर ब्याज व पेनल्टी की छूट होगी।
उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने सफाई कर्मचारियों की पुरानी लम्बित मामलों और मांगों को पूरा कर दिया नववर्ष का तोहफा।
एफआर-17 को हटा दिया गया जिसके बाद सफाई कर्मचारियों को निगम की वित्तीय स्थिति सही होने पर बकाया मिल सकेगा।
निगम में वर्ष 1998 से 2006 तक के कच्चे सफाई कर्मचारियों को चरणबद्ध तरीके से पक्का किया जा रहा है। लगभग 600 सफाई कर्मी पक्के किया जा चुके है।
निगम में वर्ष 1996 से 1998 तक के लेफ्ट आउट सफाई कर्मचारियों को पक्का किया जाएगा।
निगम में वर्ष 2010 तक करूणामूलक आधार पर लगे सफाई कर्मचारियों को भी नियमित किया जाएगा।

निगम की कुछ महत्वपूर्ण उपलब्धियां
सुल्तानपुरी अंडरपास का एक भाग 31 मार्च 2021 से आम जनता के लिए खोल दिया जाएगा।
पार्कों के बेहतर रख-रखाव के मद्देनज़र 600 कर्मचारियों को लगाने का प्रस्ताव स्थायी समिति के पारित
सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म करने लिए बर्तन बैंकों की स्थापना।
कोरोना महामारी से बचाव के लिए मास्क बैंक ।
165 निगम प्राथमिक विद्यालयों में सोलर पैनल लग चुका है एवं 230 विद्यालयों में सोलर पैनल लगवाने के लिए मामला प्रक्रियाधीन है।
समस्त विद्यालयों में बच्चों के पीने के लिये स्वच्छ व शीतल जल हेतु वाटर-कूलर, प्यूरीफायर तथा हैंड वॉश स्टेशन की व्यवस्था।

राजस्व वृद्धि हेतु सार्थक कदम
आजादपुर-मॉडल टाउन स्टाफ क्वार्टरों का पुनर्विकास
बंग्लो रोड स्टाफ क्वार्टरों का पुनर्विकास
मिंटो रोड पर कप एंड सॉसर का पुनर्विकास
श्यामा प्रसाद मुखर्जी मार्ग पर पीली कोठी वाणिज्यिक/कार्यालय परिसर हेतु लीज देना
डिलाईट सिनेमा के निकट दुकानें तथा मिलन सिनेमा के निकट वाणिज्यिक भूखण्ड
टाउन हॉल का हैरिटेज होटल के रूप में पुनर्विकास
एल. यू. ब्लॉक पीतमपुरा स्थित निगम भूखण्ड का पुर्नविकास
सैक्टर-4, रोहिणी स्टॉफ क्वार्टरों का पुनर्विकास
रूप नगर शिक्षा विभाग-भूखण्ड
रानीबाग दुकानें/कार्यालय परिसर
पुराना क्षेत्रीय कार्यालय भवन सदर पहाड़गंज तथा शहरी क्षेत्र को किराये पर देकर राजस्व अर्जित करना
यमुना बाजार हनुमान मन्दिर के पीछे लगभग 8200 वर्गमीटर क्षेत्र का पुनर्विकास

महत्वकांक्षी परियोजनाओं-बहुतलीय पार्किंगों से आय-अर्जन
ईदगाह बहुस्तरीय पार्किंग का विकास।
ई. डी. ब्लॉक पीतमपुरा में मल्टी लेवल कार पार्किंग का विकास।
अजमल खाँ पार्क, करोल बाग (पार्किंग) में बहुस्तरीय पार्किंग के रूप में विकसित करना।
रानीबाग में बहुस्तरीय पार्किंग का विकास।
शास्त्रीनगर, राजेन्द्र नगर में बहुस्तरीय पार्किंग का विकास।
ए.सी.-ब्लॉक तथा यू एंड वी ब्लॉक, शालीमार बाग में बहुस्तरीय पार्किंग का विकास।
शिवा मार्केट, पीतमपुरा का निजी क्षेत्र के सहयोग से विकास।
गाँधी मैदान में 2338 कारों की क्षमता की पार्किंग का निर्माण निजी क्षेत्र के सहयोग से ।
कुतुब रोड में 1234 वर्ग मीटर क्षेत्र पर निजी क्षेत्र के सहयोग से 174 कार की पार्किंग का निर्माण।
आर. जी. कॉम्प्लेक्स, पहाड़गंज पार्किंग का विकास।
मादीपुर, उद्योग नगर, पंजाबी बाग, नांगलोई, प्रताप नगर और मुंडका मेट्रो स्टेशन पर निजी क्षेत्र के सहयोग विकसित।
फतेहपुरी बाग में 196 कारों हेतु पार्किंग का विकास।
हनुमान सेतु पर 95 कारों की स्टैक पार्किंग का विकास।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Open chat
Need Help?
%d bloggers like this: