Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

पूर्वी दिल्ली नगर निगम द्वारा पौधारोपण अभियान ‘अडोप्ट ए ट्री’ की शुरुआत

4800 पौधों को गोद लें सकते हैं पूर्वी दिल्ली के नागरिक पूर्वी दिल्ली नगर निगम द्वारा पौधारोपण अभियान ‘अडोप्ट ए ट्री’ की शुरुआत पूर्वी दिल्ली के महापौर, श्री श्याम सुंदर अग्रवाल ने आज पूर्वी दिल्ली नगर निगम के पौधारोपण अभियान ‘अडोप्ट ए ट्री’ का गाजीपुर में कला निकेतन स्कूल के परिधि रोड़ पर पौधारोपण कर शुभारंभ किया। इस अवसर पर स्थायी समिति, श्री बीर सिंह पंवार, पूर्व उपमहापौर, श्री संजय गोयल, उद्यान निदेशक, श्री राघवेंद्र सिंह और वरिष्ठ निगम अधिकारी मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता स्थानीय पार्षद, सुश्री अपर्णा गोयल ने की। पूर्वी दिल्ली नगर निगम के इस अभियान के तहत 4880 पौधों को नागरिक गोद ले सकते हैं। पूर्वी दिल्ली नगर निगम इन पौधों के लिए ट्री गार्ड भी उपलब्ध करा रहा है। पूर्वी दिल्ली नगर निगम द्वारा ही पेड़ लगाने के लिए गड्ढा खोदने व ट्री गार्ड लगाने का काम किया जाएगा। ‘अडोप्ट ए ट्री’ अभियान के तहत पूर्वी दिल्ली के सभी 64 वार्डों में पौधारोपण किया जाएगा। नागरिक अपने आसपास क्षेत्रों में पौधों की देखभाल के कर्त्तव्य का निर्वहन कर सकते हैं और पर्यावरण संरक्षण की दिशा में अपनी भूमिका निभा सकते हैं। ‘अडोप्ट ए ट्री’ अभियान के तहत सड़क किनारे पेड़ लगाने पर जोर दिया जा रहा है। इस अभियान के तहत पूर्वी दिल्ली नगर निगम द्वारा फलदायी पौधे- आम, जामुन, कदंब, आंवला, छायादार वृक्ष जैसे- पीपल, बरगद आदि, औपधीय पौधे जैसे- नीम, अर्जुन आदि उपलब्ध कराए जा रहे हैं। जो भी नागरिक वृक्षों को गोद लेंगे, ट्री गार्ड पर उनके नाम व पते की पट्टी भी लगवाई जाएगी। पहले ही दिन विभिन्न नागरिकों ने 50 से अधिक वृक्षों को ‘गोद’ लिया है। महापौर, श्री श्याम सुंदर अग्रवाल ने नागरिकों से अपील की है कि वे मानसून के दौरान अधिक से अधिक पेड़ लगाए और पर्यावरण की रक्षा करने में अपना योगदान दें। नागरिक अपने स्थानीय पार्षद के माध्यम से पौधों को गोद ले सकते हैं। स्थायी समिति अध्यक्ष, श्री बीर सिंह पंवार ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण एक साझी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण के लिए लिहाज से मानसून का मौसम अनुकूल होता है। हमें इस समय का इस्तेमाल अधिक से अधिक वृक्ष लगाने के लिए इस्तेमाल करना चाहिए।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

Open chat
Need Help?
%d bloggers like this: